ठेका मजदूरों का धरना-प्रदर्शन

 

27 मार्च 2021 को इफको फुलपुर ठेका मजदूर संघ सम्बद्ध ऐक्टू से जुड़े सैकड़ों मजदूरों ने फुलपुर तहसील में लोकतांत्रिक, शांतिपूर्ण और संवैधानिक तरीके से धरना-प्रदर्शन किया और इफको फुलपुर में प्रबंधन की लापरवाही से हो रही मजदूरों-कर्मचारियों की मौत की उच्च स्तरीय न्यायिक समिति बनाकर जांच कराने और इसके दोषी लोगों पर कानूनी कार्यवाही करने की मांग की.

निजीकरण विरोधी दिवस, बैंक-बीमा हड़ताल ने बढ़ायी किसान-मजदूर एकजुटता

 

सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के निजीकरण के मोदी सरकार के फैसले के खिलाफ बैंक अधिकारियों-कर्मचारियों के संगठनों के संयुक्त आह्वान पर आयोजित हुई दो दिवसीय देशव्यापी हड़ताल (15-16 मार्च) के दौरान भाकपा(माले) और उसकी ट्रेड यूनियनों ने खुलकर हिस्सा लिया.

बिहार की राजधानी पटना में भाकपा(माले) विधायकों ने विभिन्न बैंकों में जाकर उनकी हड़ताल का समर्थन किया, हड़तालियों के साथ एकजुटता प्रदर्शित की और बिहार विधानसभा से निजीकरण के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने के लिए दबाव बनाने का आश्वासन दिया.

“बराबरी, इंसाफ, आजादी अधिकार हमारा” : अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर ऐपवा का देशव्यापी अभियान

 

8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर अखिल भारतीय प्रगतिशील महिला एसोसिएशन (ऐपवा) ने ‘बराबरी, इंसाफ, आजादी अधिकार हमारा’ नारे के साथ देशव्यापी कार्यक्रम आयोजित किए. इके तहत मार्च, धरना, सभा, बैठक, ज्ञापन देने के कार्यक्रम हुए.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ऐपवा ने बीकेटी तहसील तक मार्च निकालकर सभा की और बराबरी, इंसाफ, आजादी के लिए महिला-अधिकार का नारा बुलंद किया.

किसान आत्महत्या के खिलाफ प्रदर्शन

 

विगत 8 मार्च 2021 को रायबरेली (उत्तर प्रदेश) में अखिल भारतीय किसान महासभा के कार्यकर्ताओ ने कर्ज के जाल में फंस कर आत्महत्या करने वाले किसान अमरेन्द्र यादव की आत्महत्या (5 मार्च) को लेकर जिलाधिकारी कार्यालय पर प्रदर्शन किया और कर्ज वसूली के लिए दबाव बनाने वालों पर कार्यवाई करने सहित किसान का कर्ज माफ करने व मृतक के परिजनों को 10 लाख रूपये का मुआवजा देने की मांग की.

प्रखंड मुख्यालय पर धरना-प्रदर्शन

 

विगत 10 मार्च को हजारीबाग जिले (झारखंड) के बरही प्रखंड कार्यालय के समक्ष भाकपा(माले) के बैनर तले ग्यारह सूत्री मांगों को लेकर एक दिवसीय धरना आयोजित किया गया. मो. सेराज चांद की अध्यक्षता और  मो. कमालुद्दीन के संचालन में हुए कार्यक्रम में सैकड़ों लोग शामिल हुए.

टोल प्लाजा का घेराव

 

किसान आंदोलन के 100 दिन पूरे होने पर विगत 6 मार्च 2021 को दिल्ली बार्डर के रायबरेली-लखनऊ राजमार्ग पर स्थित टोल प्लाजा पर किसानों से टोल टैक्स वसूली रोकने की मांग को लेकर भारतीय किसान यूनियन (लोकतांत्रिक) से जुड़े किसानों ने घेराव किया. इसके समर्थन में यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष राकेश सिंह चौहान के साथ अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय सचिव व संयुक्त किसान मोर्चा के नेता का. पुरुषोत्तम शर्मा और रमेश सेंगर ने भी आंदोलन स्थल पर धरना दिया.

 

पेट्रोल-डीजल मूल्य वृद्धि का विरोध

 

4 मार्च 2021 को उदयपुर (राजस्थान) में जिला कलेक्टर कार्यालय पर ऐपवा-ऐक्टू के द्वारा पेट्रोल-डीजल के बढ़े हुए दामों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया. इसका नेतृत्व ऐपवा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुधा चौधरी, ऐपवा नेत्री रजिया बानो, ऐक्टू नेता शंकरलाल चौधरी व सौरभ नरुका व माले जिला सचिव का. चंद्रदेव ओला ने किया.