पर्यावरण

जोशीमठ त्रासदी - प्रकृति के अंधाधुंध दोहन का नतीजा


उत्तराखंड में जोशीमठ क्षेत्र में ग्लेशियर टूटने के चलते हुई दुर्घटना में हताहत हुए मजदूरों और स्थानीय लोगों के प्रति भाकपा(माले) संवेदना प्रकट करती है. इस घटना की चपेट में आ कर लापता हुए लोगों को ढूंढने के समुचित प्रयास किए जाने चाहिए. घायलों के इलाज का सम्पूर्ण खर्च राज्य सरकार वहन करे और मृतकों को समुचित मुआवजा राज्य सरकार दे.

मसविदा पर्यावरण प्रभाव मूल्यांकन अधिसूचना पर भाकपा(माले) की आपत्तियां : मसविदा वापस लेने की मांग की गई

पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने मार्च 2020 में एक मसविदा पर्यावरण प्रभाव मूल्यांकन (ईआइए) अधिसूचना जारी की है. भाकपा(माले) ने इस पर अपना निम्नलिखित अवलोकन और आपत्तियां दर्ज कराई हैं: