भाकपा(माले) का 5वां उजियारपुर प्रखण्ड सम्मेलन

समस्तीपुर जिले के उजियारपुर प्रखंड में 2 सितंबर 2019 को भाकपा(माले) का 5वां प्रखण्ड सम्मेलन आयोजित किया गया. सम्मेलन के मुख्य वक्ता भाकपा-माले के पोलित ब्यूरो सदस्य व मिथिलांचल प्रभारी धीरेन्द्र झा ने कहा कि मोदी के हाथों देश और देश के नौजवानों का भविष्य सुरक्षित नहीं है. आजादी के आन्दोलन में कम्युनिस्टों ने बड़ी भूमिका निभाई थी और आज एक बार फिर संविधान को बचाने की लड़ाई में कम्युनिस्टों को अगुआई करना होगा. भाकपा-माले आन्दोलन की पार्टी है और अब उसे गांव-पंचायतों में मजबूत संगठन बनाने की ओर बढ़ना होगा. सदन को अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय महासचिव का. राजाराम सिंह ने भी संबोधित किया. प्रतिनिधि सत्र में कामकाज की रिपोर्ट पर बहस के बाद सम्मेलन के पर्यवेक्षक व जिला कमेटी सदस्य सुखलाल यादव की निगरानी में 17 सदस्यीय प्रखण्ड कमेटी का गठन किया गया, जिसमें महावीर पोद्दार को सर्वसम्मति से प्रखण्ड सचिव चुना गया.

उधर, देर रात बेलामेघ निवासी जदयू कार्यकर्ता संत कुमार सिंह की बेलगाम अपराधियों द्वारा निर्मम हत्या की आलोचना करते हुए माले नेता फूलबाबू सिंह और महावीर पोद्दार ने कहा कि समस्तीपुर जिले में अपराधियों की समानान्तर सरकार चल रही है अब तो सत्ताधारी दल के कार्यकर्ता भी सुरक्षित नहीं हैं. पुलिस-अपराधी सांठ-गांठ की उच्चस्तरीय जांच कराई जानी चाहिए, क्योंकि जब भी भाकपा-माले पुलिस-प्रशासन के खिलाफ आन्दोलन करती है तो माले के आन्दोलन पर हमला करने के लिए थाना पर शराब माफियाओं और अपराधियों का सरेआम जमावड़ा लगाया जाता है. माले नेताओं ने अपराधियों की तत्काल गिरफ्तारी, मृतक के परिजनों को 10 लाख की सहायता और सरकारी नौकरी दिए जाने की मांग की है.

Ujirpur cinf

 

वर्ष28
अंक38