देवघर जिले में रसोइया संघ का प्रदर्शन

गीता मंडल

29 अगस्त 2019 को झारखंड राज्य विद्यालय रसोइया संघ (एक्टू से संबद्ध) ने देवघर शहर के पुराना सदर अस्पताल से प्रदर्शन निकाला जो वीर सिंह चौक व सत्संग चौक होते हुए जिला शिक्षा अधीक्षक (डीएसई) कार्यालय पहुंच कर धरना में तब्दील हो गया. वहां सरकार विरोधी नारों के बीच राज्यपाल को संबोधित मांगपत्र डीएसई को सौंपा गया.

रसोइया संघ की प्रमुख मांगों में मध्याह्न भोजन योजनाओं का निजीकरण व ठीकेदारीकरण पर रोक लगाने, विद्यालयों में कार्यरत रसोइयों को सरकारी कर्मचारी का दर्जा देने, साल में 10 महीनों की जगह 12 महीनों 18 हजार रुपया प्रतिमाह के दर से बेतन देने, रसोइयों को नियुक्ति पत्र देने और हर माह वेतन भुगतान की गारंटी करने, सुखाड़ के समय भी मध्याह्न भोजन कर्मी द्वारा बनाए गए मध्याह्न भोजन के लिए निर्धारित मजदूरी देने तथा देरी से मानदेय प्राप्त होने और गरीबी के कारण सही इलाज न हो पाने की वजह से मौत की शिकार हुई उत्क्रमित मध्य विद्यालय सिरसा, मोहनपुर की रसोइया प्रतिमा के परिजनों को पांच लाख रुपया मुआवजा और एक परिजन को नौकरी देने की मांग की गई.

धरना का नेतृत्व ऐपवा नेत्री गीता मंडल व संघ के सचिव जयदेव सिंह ने किया. देवकी देवी, बिंदेश्वरी देवी, संजू देवी, द्रौपदी देवी, तारा देवी आदि बड़ी संख्या में रसोइयों ने प्रदर्शन व धरना कार्यक्रम में शिरकत की.

वर्ष28
अंक38