गिरिडीह जिले में कई प्रखंडों के सम्मेलन संपन्न हुए

वर्ष - 30
अंक - 16
17-04-2021

 

गिरिडीह जिले के विभिन्न प्रखंडों में भाकपा(माले) के  प्रखंड सम्मेलन संपन्न हुए हैं. 10 अप्रैल 2021 को तिसरी प्रखंड अंतर्गत सिंघो पंचायत भवन के समक्ष दिवंगत काॅमरेड सुभाष हाॅल में भाकपा(माले) का 7वां तिसरी प्रखंड सम्मेलन सम्पन्न हुआ. सम्मेलन में सर्वसम्मति से 27 सदस्यीय प्रखंड कमिटी का चुनाव किया गया तथा काॅ. जयनारायण यादव को प्रखंड सचिव चुने गये. सम्मेलन की शुरुआत झंडोत्तोलन व उसके बाद शहीद साथियों एवं किसान आंदोलन में शहीद किसानों को याद करते हुवे एक मिनट की मौन श्रद्धांजलि देने के साथ हुई. धनवार पूर्व विधायक काॅ. राजकुमार यादव ने सम्मेलन को मुख्य अतिथि के बतौर संबोधित किया. उन्होंने कहा कि आज भी क्षेत्र में समस्याओं का अंबार लगा हुआ है. कई ऐसे इलाके है जो अत्यंत ही पिछड़े हुए हैं. वहां आने-जाने के लिए सड़क तो दूर, पीने के लिए पानी भी नसीब नहीं है. बाबूलाल मरांडी जब से इस क्षेत्र का विधायक बने है तब से ब्लाॅक से लेकर थाने तक लूट मची हुई है. क्षेत्र में ढ़िबरा भी रोजगार का एक बहुत बड़ा साधन था. ढिबरा को कानून बनाकर वैधता दिलाने के नाम पर स्थानीय विधायक-सांसद ने  गरीबों एवं मजदूरों का वोट बटोर लिया और जनता के साथ विश्वासघात करने का काम किया. उन्होंने कहा कि देश की तानाशाह मोदी सरकार लगातार देश के ऊपर काले कानूनों को थोपने का काम कर रही है. देश के सारे शिक्षण संस्थानों और रेल से लेकर हवाई जहाज तक सभी संसाधनों का निजीकरण किया जा रहा है. सरकार रोजगार के प्रति जवाबदेह नहीं है. भाकपा(माले) राशन-किरासन, पेंशन-आवास और जनता के जनसमस्याओं को लेकर आंदोलन छेड़ेगी और किसानों, मजदूरों, छात्रों व नौजवानों की आवाज को बुलंद करने का काम करेगी.

सम्मेलन में गिरिडीह जिला कमिटी सदस्य सकलदेव यादव, इंनौस राष्ट्रीय परिषद सदस्य अशोक मिस्त्री, अकलेश यादव आदि भी मौजूद थे. सम्मेलन की अध्यक्षता जयनारायण यादव, भोला साव और मोहम्मद सत्तार अंसारी तथा संचालन मुन्ना राणा, धर्मेंद्र यादव और मंटू शर्मा नें किया. काॅ. मुस्तकीम अंसारी सम्मेलन के पर्यवेक्षक थे.

11 अप्रैल 2021 को भाकपा(माले) का 6वां बेंगाबाद प्रखंड सम्मेलन काॅ. महेंद्र सिंह सभागार (ओझाडीह) में संपन्न हुआ. सम्मेलन में हुई चर्चा के उपरांत 39 सदस्यीय नई कमेटी का गठन किया गया जिसका सचिव सर्वसम्मति से काॅ. शिवनंदन यादव को चुना गया. नई कमेटी ने जन संघर्ष तेज करने का संकल्प लेते हुए आगामी 14 अप्रैल को डाॅ. भीमराव अंबेडकर जयंती को ‘संविधान बचाओ दिवस’ के रूप में मनाने का आह्वान किया.

11 अप्रैल को ही जमुआ प्रखंड कमेटी का सम्मेलन संपन्न हुआ जिसमें 35 सदस्य कमेटी का निर्माण किया गया और सचिव के रूप में काॅमरेड रीत लाल प्रसाद वर्मा का चयन किया गया. धनवार के पूर्व विधायक व वरिष्ठ पार्टी नेता काॅमरेड राजकुमार यादव ने सम्मेलन को मुख्य अतिथि के बतौर संबोधित किया. काॅ. पूरन महतो, भोला मंडल व जमुआ विधानसभा प्रभारी काॅ. अशोक पासवान भी सम्मेलन में मौजूद रहे. गिरिडीह जिला कमेटी सदस्य काॅ. पवन महतो सम्मेलन के पर्यवेक्षक थे.

भाकपा(माले) का 8वां देवरी प्रखंड सम्मेलन विगत 15 अप्रैल को हरिरायडीह (फतेहपुर यादव टोला) के समक्ष शहीद काॅमरेड कामेश्वर यादव सभागार में संपन्न हुआ. काॅ. पूरन महतो पर्यवेक्षक थे. सम्मेलन की शुरुआत शहीदों को एक एक मिनट की मौन श्रद्धांजलि देने व झंडोत्तोलन के साथ की गई.

सम्मेलन के मुख्य अतिथि धनवार पूर्व विधायक काॅ. राजकुमार यादव ने सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि सभी देशों के प्रधानमंत्री कोरोना से लड़ रहे हैं, हमारे मोदी जी बंगाल का चुनाव लड़ रहे हैं. अस्पताल में  दवाई नहीं, डाॅक्टर नहीं, बेड नहीं, ऑक्सीजन नहीं, वेंटिलेटर नहीं, इंजेक्शन नहीं, एम्बुलेंस नहीं तो आखिर है क्या? इसका भी कोई जबाब नहीं. मोदी जी को जनता की जान से ज्यादा अपना ‘झूठ’ प्यारा है.

सम्मेलन में राज्य कमिटी सदस्य उस्मान अंसारी, जमुआ विधानसभा प्रभारी अशोक पासवान, किशोरी अग्रवाल, नागेश्वर महतो समेत जिले के कई नेता मौजूद रहे.