बिहार के चर्चित आइपीएस अधिकारी अमिताभ कुमार दास ने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र भेज कर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भ्रष्ट ठेकेदारों और टेंडर माफिया के आदेश पर पटना की ऐतिहासिक खुदाबख्श लाइब्रेरी के कुछ हिस्सों को जमींदोज करने का फैसला  लेने का आरोप लगाया है. अपने पत्र में उन्होंने खुदाबख्श लाइब्रेरी को पूरी इंसानियत की विरासत और हिंदुस्तान की गंगा-जमुनी तहजीब की निशानी बताते हुए कहा है कि पूरा बिहार इस पर गर्व करता है और एक पुस्तक-प्रेमी होने के नाते, मुझे सरकार के इस फैसले से गहरा सदमा लगा है. मैंने बरसों तक, एक आइपीएस अधिकारी के रूप में देश को अपनी सेवाएं दी है. नीतीश सरकार द्वारा पटना की खुदा बख्या लाइब्रेरी को जमींदोज करने के फैसले के खिलाफ मैं भारत सरकार द्वारा प्रदत पुलिस पदक आपको लौटा रहा हूं.