पुलिस पिटाई से व्यापारी की मौत : उत्तर प्रदेश में पुलिस राज का नया कारनामा

वर्ष - 30
अंक - 41
09-10-2021

 

भाकपा(माले) की राज्य इकाई ने गोरखपुर में पुलिस की पिटाई से कानपुर के व्यापारी मनीष गुप्ता की मौत पर कहा है कि प्रदेश में लोकतंत्र के बजाय पुलिस राज है. व्यापारी की हत्या के लिए योगी सरकार जिम्मेदार है.

पार्टी ने यहां जारी बयान में कहा कि योगी सरकार में कानून का शासन खत्म हो चुका है और पुलिस नागरिकों की रक्षा की जगह उनकी हत्या कर रही है. यह सरकार द्वारा पुलिस को दी गई खुली छूट का नतीजा है.

माले ने कहा कि मानवाधिकार हनन और हिरासती हत्याओं यानी सरकारी हिंसा में योगी शाषित उत्तर प्रदेश का कोई सानी नहीं है. ‘ठोक दो’ की नीति ने पुलिस को खूंखार बना दिया है. गोरखपुर में होटल में ठहरे व्यापारी के साथ पुलिस ने जो कुछ किया, उसकी जितनी भी निंदा की जाए, कम है. इस बर्बर हत्याकांड के दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए.