आह्वान

विनाशकारी मोदी सरकार और कोविड नरसंहार के खिलाफ लड़ाई में नक्सलबाड़ी की क्रांतिकारी भावना को बुलंद करो!

25 मई 1967 को दुनिया ने पहली बार नक्सलबाड़ी वज्रनाद को सुना था। न्याय माँगने के कारण ग्रामीण दार्जिलिंग में ग्यारह किसान परिवार, जिनमें आठ महिलाएँ एक पुरुष और दो बच्चे थे, को राजसत्ता ने गोलियों से भून डाला। इस घटना के बाद ही नक्सलबाड़ी के क्रांतिकारी जागरण की चिंगारी फूट पड़ी। भारतीय राजसत्ता को चकित करते हुए नक्सलबाड़ी की यह चिंगारी समूचे मुल्क के सर्वाधिक वंचित और हाशिए के तबक़ों के बीच दमन और अन्याय के खिलाफ आग की लहर बनकर भड़क उठी।

कोरोना के प्रति वैज्ञानिक दृष्टिकोण अपनाएं, लोगों की मदद करें

 

हम बहुत कठिन दौर से गुजर रहे हैं. हमारे चारों ओर लोग जान गंवा रहे हैं, उनके लिए सांस लेना मुश्किल हो रहा है, सामूहिक रूप से शवों का अंतिम संस्कार अनवरत चौबीसों घंटे जारी है.

प. बंगाल में भाजपा को सत्ता में आने से रोकने के लिए एक मजबूत विपक्ष का होना जरूरी है

 

– सुमंती एक्का, फांसीदेवा विधान सभा क्षेत्र से भाकपा(माले) प्रत्याशी

सुमंती एक्का महसूस करती हैं कि सरकार चाय मजदूरों की दुर्दशा के प्रति असंवेदनशील बनी रही है और उसने चाय बागान में न्यनतम मजदूरी कानून लागू करने की कभी कोशिश नहीं की. उन्होंने रोजगार के नुकसान, कृषि संकट, मूल्य वृद्धि और श्रम अधिकारों के क्षरण का हवाला दिया और भाजपा के खिलाफ ‘मजबूत एकताबद्ध प्रतिरोध’ का आह्वाव किया.

विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक, 2021 : बिहार को उत्तर प्रदेश बनाने की साजिश

 

बिहार की भाजपा-जदयू सरकार ने विगत 19 मार्च 2021 को बिहार विधानसभा में बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक, 2021 पेश कर दिया है. यह एक काला विधेयक है. भाकपा(माले) ने विधानसभा के अंदर से लेकर बाहर तक इसका चौतरफा विरोध करने की अपील की है.

मेरी आवाज सुनो


ऐसा भी एक वक्त था जब हम बोलते थे  
एक जमाना भी था जब हम जोर से बोलते थे
ना इंसाफी के खिलाफ  बेइंसाफी के खिलाफ
हम एक ही आवाज में जोर-जोर से चिल्लाते थे
हंगामा मचा के उठाते थे सोये हुये लोगों को
मिलाते थे बिछड़े हुये बिगडे़ हुये दिलों को!
अरे अब क्या हो गया है हम कहां खो गये हैं
हर तरफ दर्द के अफसाने फैले हुये हैं
हर आंगन मे टूटे दिलों के टुकड़े नजर आ रहे हैं
हर इंसान के दिल में टूटा हुआ मन दिख रहा है
हर तरफ खेतों की हरियाली अब बेरंग हो गई है
दाने-दाने में किसान के आंसू नजर आते है!