नवगछिया प्रखंड कार्यालय का घेराव

महीनों से रूके बकाया वृद्धावस्था पेंशन के अविलंब भुगतान, तकनीकी गड़बड़ी के बहाने पेंशन काटना बंद करने व वृद्धों-लाचारों को दी जानेवाली पेंशन राशि को बढ़ाकर 1000 रुपए प्रतिमाह करने, बाढ़-कटाव का स्थायी निदान करन व कटाव से विस्थापितों सहित सभी भूमिहीनों का सर्वे कर सभी को 5 डिसमिल वास भूमि देने, सभी गरीबों व अन्य जरूरतमंदों को आवास देने, प्रधानमंत्री आवास योजना में जारी अवैध वसूली पर रोक लगाने, कन्या विवाह योजना व कबीर अंत्योष्टि योजना की राशि का अविलम्ब भुगतान करने, बचे हुए किसानों को प्रधानमंत्री किसान निधि योजना की किस्त का भुगतान करने, राशन कार्ड में नाम जोड़ने-हटाने

नगर परिषद के खिलाफ प्रतिवाद मार्च

थाना मोड़ समेत बाजार क्षेत्र के सभी सड़कों व मुहल्लों से जल निकासी करने, जर्जर सड़क की मरम्मती व नाला बनाने, सफाई के नाम पर प्रतिमाह 20 लाख रूपये की बंदरबांट की जांच करने, डेंगू के रोकथाम के लिए फॉगिंग एवं छिड़काव करने आदि मांगों को लेकर विगत 21 अक्टूबर 2022 को समस्तीपुर के ताजपुर में इनौस, ऐपवा और भाकपा(माले) के कार्यकर्ताओं ने अस्पताल चौक से प्रतिरोध मार्च निकाला.

बढ़ते अपराध के खिलाफ जन पंचायत

लगभग 6 महीने से अपहृत कृष्ण कुमार शर्मा की बरामदगी मामले में पुलिस की आपराधिक लापरवाही के खिलाफ विगत 15 अक्टूबर 2022 को दरभंगा जिला के बिरौल प्रखंड के देकुली धाम के आंधारी टोल में भाकपा(माले) की बिरौल एरिया कमिटी के बैनर तले ग्रामीण गरीबों ने जनपंचायत का आयोजन किया.

चुनाव में धांधली के खिलाफ धरना

भाकपा(माले), अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा द्वारा विगत 19 अक्टूबर 2022 से 5-सूत्री मांगों को लेकर चंदौली जिला मुख्यालय पर यबिछिया मेंद्ध अनिश्चितकालीन धरना शुरू किया गया.

फिर से सिर उठा रही सामंती ताकतों के खिलाफ प्रतिवाद सभा

भोजपुर जिले के तरारी विधानसभा क्षेत्र में सामंत. नौकरशाह-पुलिस गठजोड़ अब भी गरीबों पर दमन ढाने का मंसूबा पालने में पीछे नहीं है. तरारी प्रखंड के डुमरिया पंचायत में गरीबों की राजनीतिक दावेदारी बढ़ने और सरपंच पद पर भाकपा(माले) नेता श्रीराम साह के काबिज होने के बाद ये ताकतें बौखला उठी हैं. धनगावां वासी पूर्व सरपंच अभिराम सिंह जो पंचायती सत्ता से बेदखल हो चुके हैं के नेतृत्व में वे गरीबों को तंग-तबाह करने में लग गयी हैं.

बेतिया : मुआवजे की मांग पर किसान महासभा का प्रदर्शन

विगत 18 अक्टूबर 2022 को किसानों के खेतों से फसल सहित जबरन काटी गई मिट्टी को अविलम्ब भरवाने और मुआवजा देने, सड़क निर्माण में हो रही घटिया काम की जांच कराने, किसान नेता सुनील कुमार राव को धमकाने व हत्या करने की धमकी देने वाले ठेकेदार-दलालों पर कार्रवाई करने, ठेकेदार-प्रशासन-अपराधी-सामंत गठजोड़ पर कार्रवाई करने आदि मांगों को लेकर अखिल भारतीय किसान महासभा ने प. चंपारण के जिला पदाधिकारी के सामने प्रदर्शन कर मुख्यमंत्री के नाम मांग पत्र सौपा.

दलित युवक की हत्या के खिलाफ प्रतिरोध सभा

समस्तीपुर जिले के विभूतिपुर प्रखंड अंतर्गत भूतेश्वर चौक, कोदरिया मेंविगत 20 अक्टूबर को भाकपा(माले) के बैनर तले दलित युवक सनातन पासवान उर्फ नीरज की हत्या के खिलाफ प्रतिवाद कार्यक्रम आयोजित किया गया.

बिहार राज्य निर्माण मजदूर यूनियन का 6ठा राज्य सम्मेलन

‘दिल्ली-पटना की सरकार, मजदूरों की सुनो पुकार’

15 अक्टूबर 2022 को ही बिहार राज्य निर्माण मजदूर यूनियन (एआईसीसीटीयू व एआईसीडब्ल्यूएफ से सम्बद्ध) का 6ठा राज्य सम्मेलन भी वैशाली के हाजीपुर स्थित बुवना स्मृति भवन में ही सम्पन्न हुआ. सम्मेलन में 16 जिलों के कुल 92 प्रतिनिधि शामिल हुए जिसमें 13 महिलाएं थी.

बरेली बड़ा बाईपास : भूमि अधिग्रहण प्रभावित किसानों का आंदोलन

बरेली बड़ा बाईपास के लिए वर्ष 2013 के अक्टूबर महीने में बर्बर लाठीचार्ज कर किसानों की तैयार धान की फसल को जेसीबी मशीन से रौंद कर जबरन भूमि अधिग्रहण किया गया था, इसका विरोध करने के कारण बरेली के रूहेलखण्ड विश्वविद्यालय मे अर्थशास्त्र के प्रोफेसर डॉ. इसरार खान व अखिल भारतीय किसान महासभा के जिला नेता कामरेड हरिनन्दन सिंह सहित कई किसानों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था.